शीघ्र ही आचार्य महंत नरेन्द्र गिरि की संदिग्ध मौत का सच सबके सामने लाएगी योगी सरकार : राजेश खुराना

0 18

उत्तर प्रदेश जनपद आगरा
द्वारा
दैनिक मधुर दर्पण समाचार
इनपुट : सचिन सिंह

उत्तर प्रदेश जनपद आगरा :– हिन्दू जागरण मंच, ब्रज प्रान्त उ.प्र. के प्रदेश संयोजक एवं आत्मनिर्भर एक प्रयास के चेयरमैन एवं समाजसेवक श्री राजेश खुराना ने पत्रकार वार्ता में कहा कि योगी सरकार जल्द ही आचार्य महंत नरेन्द्र गिरि की संदिग्ध मौत का सच सबके सामने लाएगी। आचार्य महंत नरेंद्र गिरि की अचानक सदिग्ध मौत ने सबको हैरत में डाल दिया है। पुलिस अब पूरे मामले की तह तक जाने के लिए जांच में जुट गई है। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के प्रेसीडेंट की मौत को लेकर अब सीबीआई जांच की आवाज उठ रही है। जिसे लेकर इलाहाबाद हाई कोर्ट में याचिका दायर की गई। अखाड़ा परिषद के उपाध्यक्ष देवेंद्र सिंह ने याचिका के जरिए मामले में निष्पक्ष जांच की मांग की है। सीएम योगी ने अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरि के आवास श्री मठ बाघम्बरी में जाकर उनको श्रद्धांजलि दी और उनके पार्थिव देह का अंतिम दर्शन करने के साथ वहां पर शोकाकुल महंतों तथा अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के सदस्यों को सच सामने लाने का भी भरोसा दिलाया। मुख्‍यमंत्री ने स्‍पष्‍ट रूप से कहा कि अखाड़ा परिषद के अध्‍यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की मौत के मामले में जो भी जिम्‍मेदार होगा उसके खिलाफ सख्‍त कार्रवाई की जाएगी। इस पूरे मामले में महंत की संदिग्ध मौत से पहले जिन – जिन लोगों से बात हुई है, उन सभी के नंबर निकाल कर पुलिस उनसे पूछताछ कर रही हैं। महंत नरेंद्र गिरि की मोबाइल पर कई अहम सुराग भी मिले हैं, जिसकी जांच पुलिस कर रही है। इसी बीच उत्तर प्रदेश पुलिस ने घटनास्थल से नरेंद्र गिरी का सुसाइड नोट भी बरामद किया है, जिसमें उन्होंने अपने शिष्य आनंद गिरी का जिक्र किया है। उन्होंने अपने नोट में लिखा कि वो अपने शिष्य से काफी दुखी थे। इसे लेकर यूपी पुलिस ने आनंद गिरि को हिरासत में ले लिया है।

श्री खुराना ने बताया कि आचार्य महंत नरेन्द्र गिरी ने साधु संतों की समस्या को प्रमुखतः से उठाया और प्रयागराज को स्वच्छता के नए मानक को स्थापित किया। प्रयागराज कुंभ को पूरी भव्यता से बेहतर बनाने के लिए उन्होंने पूरा सहयोग किया था I महंत नरेन्द्र गिरी की सन्दिग्ध हत्या के मामले की जांच के लिये एडीजी जोन के नेतृत्व में जांच टीम बनाई है, जिसमें एडीजी जोन, आईजी रेंज, डीआईजी, मंडलायुक्त की टीम जांच करेगें। वहीं, महंत नरेन्द्र गिरि की स्तब्ध करने वाली इस मौत से संत समाज आक्रोशित है। सीएम योगी ने प्रयागराज में बाघम्बरी मठ में जाकर महंत नरेन्द्र गिरि को नमन करने के साथ ही इस मामले का सचशीघ्र ही सबके सामने लाने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि महंत नरेन्द्र गिरि की मौत संत समाज के लिए अपूरणीय क्षति है।

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.